गोरखपुर

सिंचाई कार्यशाला खण्ड, गोरखपुर द्वारा किये जाने वाले कार्यो के संबंध में संक्षिप्त टिप्पणी

सिंचाई कार्यशाला खण्ड, गोरखपुर की स्थापना वर्ष 1983-84 में हुई थी। इस कार्यशाला में मशीन शाप, फेब्रीकेशन शाप, ब्लैक स्मिथि शाप, फाउंड्री एवं मोल्डिंग शाप आदि स्थापित है। यह कार्यशाला आई0एस0ओ0 9001-2008 प्रमाणित है। कार्यशाला परिसर का कुल क्षेत्रफल 30,635 वर्ग मीटर है तथा 51 मशीने/उपकरण स्थापित है। औद्योगिक अधिष्ठान में श्रमिको के स्वीकृत पदों की संख्या 126 है। नलकूप (पूर्व) फैजाबाद परिक्षेत्र के अन्तर्गत फैजाबाद, गोरखपुर, गोण्डा, बस्ती, मण्डलों एवं नलकूप (वाराणसी) परिक्षेत्र के आजमगढ मण्डल में स्थापित राजकीय नलकूपों हेतु कलपुर्जो एवं हार्डवेयर की आपूर्ति तथा नवीन स्थापित किये जाने वाले नलकूपों हेतु हार्डवेयर की आपूर्ति की जाती है इस कार्यशाला में मुख्यतः नये नलकूपों के हार्डवेयर्स यथा रिड्यूसर, साॅकेट, नलकूपों के पम्प हाउसों के दरवाजे, खिडकी, रोशनदान, सी0आई0बेन्ड, बेस प्लेट, मैन होल कवर, वी-नाॅच प्लेट आदि सहित चलित नलकूपों के स्पेयर्स यथा गन मेटल के बुश, नेकरिग , थ्रस्ट प्लेट, थ्रस्ट बियरिंग, पम्प इम्पेलर, स्टेनलेस स्टील पम्प शाफट, वी0टी0 पम्प सेटों के लाइन शाफट, इत्यादि सामग्री का उत्पादन कर विभिन्न नलकूप निर्माण खण्डों एवं नलकूप खण्डों को आपूर्ति की जाती है। सिविल खण्डों की मांग पर नहरों के छोटे गेटों का निर्माण एवं स्थापन कार्य भी इन कार्यशालाओं द्वारा किया जाता है। डाल नहर /लघु डाल नहरों हेतु आवश्यक एम0 एस0 पाइप, बार्ज आदि हार्डवेयर का उत्पादन भी माॅग के अनुरूप किया जाता है।

कार्य प्रबंधक
सिंचाई कार्यशाला खण्ड, गोरखपुर

सिंचाई कार्यशाला खंड-गोरखपुर, संगठन संरचना