मेरठ

सिंचाई कार्यशाला खण्ड, मेरठ के कार्यो के सम्बन्ध में संक्षिप्त टिप्प्णी

सिंचाई कार्यशाला खण्ड, मेरठ की स्थापना वर्ष 1948 में कृषि अभियन्त्रण विभाग के अन्तर्गत मवाना रोड, मेरठ में हुई थी, जिसमें कृषि विभाग के ट्रैक्टरों की मरम्मत एवं कृषि यंत्रों का निर्माण किया जाता था। वर्ष 1952 में विभागीय विलय के उपरान्त कार्यशाला का नियन्त्रण सिंचाई विभाग के अधीन हो गया। सिंचाई कार्यशाला खण्ड, मेरठ लगभग 37000 वर्ग मीटर में स्थापित है।

इस कार्यशाला में मशीन शॉप, फैब्रीकेशन शॉप, लोहार शॉप, फिटिंग शॉप, विद्युत शॉप एवं फाउन्ड्री शॉप स्थापित हैं। कास्ट आयरन की ढलाई हेतु एक 05 टन क्षमता की पुरानी क्यूपोला फरनेस है एवं गन मेटल की ढलाई हेतु डीजल पिट फर्नेस क्रियाशील है। यह कार्यशाला आई0 एस0 ओ0 9001-2008 प्रमाणित है। यह कार्यशाला फैक्ट्री एक्ट 1948 के अन्तर्गत पंजीकृत है। कार्यशाला में कार्यरत श्रमिक औद्योगिक अधिष्ठान के अन्तर्गत आते है। इन श्रमिकों पर श्रमिक एक्ट लागू होते हैं। इनकी सेवायें इन्डस्ट्रियल इम्पलाईमेंट (स्टैन्डिंग आर्डर) एक्ट 1946 एवं प्रदेश सरकार द्वारा जारी उत्तर प्रदेश इन्डस्ट्रियल इम्पलाईमेन्ट मॉडल स्टैन्डिंग आर्डर 1991 जो दिनांक 24.07.1992 मे प्रभावी हैं, द्वारा आच्छादित है।

इस कार्यशाला द्वारा नलकूप (पश्चिम) परिक्षेत्र के मेरठ, सहारनपुर, मुरादाबाद, अलीगढ़ एवं आगरा मण्डलों में स्थापित राजकीय नलकूपों एवं नलकूप (मध्य) परिक्षेत्र के अन्तर्गत बरेली मण्डल में स्थापित राजकीय नलकूपों में प्रयुक्त होने वाले हार्डवेयर यथा रिडयूसर, एम0एस0 सॉकेट, नलकूपों के पम्प हाउसों के दरवाजें, खिड़की, रोशनदान, सी0आई0 बैन्ड, बेस प्लेट, मेन होलकवर, वी-नॉच प्लेट आदि तथा चलित नलकूपों के स्पेयर्स यथा-मनमेटल के बुश, नेकरिंग, थ्रस्ट-प्लेट, थ्रस्ट-बियरिंग, पम्प इम्पेलर, एस0एस0 पम्प शाफ्ट, वी0टी0 पम्प सैटों के लाइन शाफ्ट इत्यादि सामग्री का उत्पादन कर, विभिन्न नलकूप निर्माण खण्डों एवं नलकूप खण्डों को आपूर्ति की जाती है।

इस कार्यशाला में मुख्यत: सिविल खण्डों की मांग पर नहरों के छोटे गेटों का निर्माण एवं स्थापन का कार्य भी किया जाता है। डाल नहर / लघु नहरों हेतु आवश्यक एम0एम0 पाइप, एम0एस0 बार्ज आदि हार्डवेयर का उत्पादन भी मांग के अनुरूप करया जाता है।

सिंचाई कार्यशाला खण्ड, मेरठ